तू'फानी' आफत : झारखंड में आज की रात होगी कयामत की रात, पूरे झारखंड के ऊपर तू'फानी' आफत - Public News Ranchi

Breaking

तू'फानी' आफत : झारखंड में आज की रात होगी कयामत की रात, पूरे झारखंड के ऊपर तू'फानी' आफत

झारखंड में शुक्रवार की रात क़यामत की रात से कम नहीं होगी

आज शाम साढ़े पांच बजे से शनिवार शाम साढ़े पांच बजे तक पूरे राज्य को अलर्ट पर रखा गया है। मौसम विभाग के मुताबिक़ झारखंड की राजधानी रांची में शाम साढ़े पांच बजे महाचक्रवाती तूफ़ान 'फानी' दस्तक देगा। रात करीब 11 बजे तूफ़ान की रफ़्तार सबसे अधिक 60 किलोमीटर प्रतिघंटा होगी। तूफ़ान का भयानक प्रकोप रात के 11 बजे से शुरू होगा और पूरी रात तबाही मचाएगा। विभाग ने लोगो से एहतियातन घरो में रहने की अपील की है। फानी महातूफान के दौरान किसी भी आपात स्थिति से निबटने के लिए जिला नियंत्रण कक्ष रांची 24 घंटे कार्यरत कर दिया गया है। जिला नियंत्रण कक्ष के फोन नंबर 0651-2214182 पर आपातकालीन सूचना उपलब्ध कराई जा सकती है। नियंत्रण कक्ष के वरीय प्रभार में अपर जिला दंडाधिकारी विधि-व्यवस्था को प्रतिनियुक्त किया गया है। वहीं, 03 से 04 मई तक के सभी स्वीकृत अवकाश रद्द कर दिया गया। सभी पदाधिकारी और कर्मी को कर्तव्य पर उपस्थित रहने का निदेश दिया जाता है। अपरिहार्य स्थिति में अवकाश की स्वीकृति डीसी के स्तर से ही दी जाएगी।

जर्जर पुल, बिजली पोल पर ध्यान देने का निर्देश

बिजली के कमजोर तार एवं पुल पर विशेष ध्यान देते हुए स्थिति के अनुसार विद्युत आपूर्ति बहाल करना सुनिश्चित करने का निदेश डीसी ने दिया है। राज्य अग्निशमन पदाधिकारी को आपातकालीन स्थिति से निपटने हेतु अपने विभाग के कर्मचारियों को सतर्क करते हुए अपरिहार्य स्थिति से निपटने हेतु आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करने का निदेश दिया गया है। मण्डल रेल प्रबंधक रांची को रेल यातायात प्रभावित होने की आशंका के मद्देनजर यात्रियों के आवासन, खाद्य सामग्री की उपलब्धता एवं स्वास्थ्य सेवा की उपलब्धता सुनिश्चित कराए जाने का निर्देश दिया गया है। जबकि, अपर नगर आयुक्त रांची नगर निगम को सामूहिक आवासन स्थल चिन्हित करते हुए लोगों के लिए आवासन की व्यवस्था सुनिश्चित कराए जाने का निदेश दिया गया है। साथ ही रिसोर्सेज, अर्थ मूविंग इक्यूपमेंट जैसे जेसीबी, पेलोडर इत्यादि को तैयार स्थिति में जिला नियंत्रण कक्ष में सुनिश्चित करने को कहा गया है।

विशेष पेट्रोलिंग का दिया निर्देश

यातायात पुलिस अधीक्षक को वाहनों की आवाजाही पर नियंत्रण रखते हुए राष्ट्रीय एवं राज्य मार्गों पर विशेष मोबाइल पेट्रोलिंग कराए जाने का निदेश दिया गया है। जिला परिवहन पदाधिकारी को कहा गया है कि वाहन संघों से समन्वय स्थापित कर सुनिश्चित करेंगे कि भारी वर्षा एवं तेज हवा के समय वाहन ना चलें एवं सुरक्षित स्थानों पर खड़े किए जाएं।

महातूफ़ान के दौरान आम नागरिक इन बातो का ध्यान रखे


  1. तूफान के बाद क्षतिग्रस्त भवनों में न जाएं। 
  2. बिजली के खुले तारों को न छुएं। 
  3.  अधिक से अधिक घरो में रहने की कोशिश करे। 
  4.  जरुरत ना हो तो घरो से बाहर ना निकले। 
  5.  इमारत की छतो पर कोई भारी सामान ना रखे। 
  6.  तूफ़ान के दौरान ऊंचे पेड़ो और बिजली के खंभो से दूर रहे।

No comments:

Post a Comment